पटना: 

बिहार में 32 साल के एक शख्स की बुधवार को पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. राजधानी पटना के पास हुई इस घटना में मृतक पर भैंस चुराने की कोशिश करने का शक था. पुलिस ने बताया है कि इस घटना में लिप्त सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने कहा कि शिकायत में दिए गए सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

घटना पटना के फुलवारीशरीफ के पास बुधवार की सुबह है. पीड़ित मुहम्मद आलमगीर को तड़के सुबह 3 बजे एक गौशाला से एक भैंस को खोलते हुए देखा गया था, जिसके बाद उसकी पिटाई कर दी गई थी. आलमगीर के साथ मौके पर एक अन्य शख्स भी था, जो मौके से भागने में कामयाब हो गया.

आलमगीर को पकड़ने के बाद उसकी घंटों तक पिटाई हुई थी, जिसके बाद बुधवार दोपहर में उसकी मौत हो गई.

2017 में, गौरक्षा समूहों की ओर से बढ़े हमलों के बाद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन घटनाओं का जिक्र किया था और कहा था कि गायों के प्रति समर्पण के लिए दूसरों की हत्या मंजूर नहीं है.

हिंदू धर्म में गायों को पवित्र माना गया है और उनकी बलि या भक्षण भारत के अधिकतर हिस्सों में गैरकानूनी है. कई गौरक्षक समूह खुद कानूनों को लागू करने के लिए सक्रियता दिखाते हैं, अकसर बहुत ही हिंसात्मक तरीके से. गौरक्षा को लेकर भीड़ की पिटाई या फिर मॉब लिंचिंग की घटनाओं में पीड़ित मुस्लिम रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here