बेंगलुरु: कर्नाटक विधान परिषद (Karnataka Legislative Council) में मंगलवार को सत्ता और विपक्ष के बीच भारी हंगामा हुआ. कांग्रेस चेयरमैन का विरोध कर रही थी और हंगामा इतना बढ़ गया कि कांग्रेस के विधान परिषद सदस्यों ने डिप्टी चेयरमैन को कुर्सी से खींचकर हटा दिया. इस दौरान कांग्रेस और बीजेपी के विधायकों (MLC) के बीच जमकर हाथापाई भी हुई.

बीजेपी ने बनाया चेयरमैन को हटाने का प्लान

कर्नाटक विधान परिषद (Karnataka Legislative Council) में आज (मंगलवार) 1 दिन का विशेष सत्र शुरू बुलाया गया था, लेकिन सत्र शुरू होने से पहले ही बीजेपी और कांग्रेस के सदस्यों के बीच जबरदस्त धक्का मुक्की हो गई. BJP ने विधानपरिषद के चेयरमैन प्रताप चंद्र शेट्टी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए गर्वनर के निर्देश पर सत्र बुलाया था. विधान परिषद में बीजेपी के पास संख्या बल कम है, ऐसे में JDS के समर्थन के साथ मिलकर कांग्रेस के काउंसिल चेयरमैन को हटाने का प्लान तैयार किया था.

कांग्रेस ने डिप्टी चेयरमैन को कुर्सी से हटाया

परिषद के अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जाना था, इसीलिए सत्र शुरू होने से पहले बीजेपी और जेडीएस ने मांग रखी कि चेयरमैन की कुर्सी पर मौजूदा अध्यक्ष नहीं बैठेंगे और उनकी जगह डिप्टी चेयरमैन और जेडीएस के MLC भौजे गौड़ा को कुर्सी पर बैठने को कहा गया. इससे कांग्रेस के सदस्य नाराज हो गए और भारी हंगामे के बीच जबरन डिप्टी चेयरमैन को कुर्सी से खींचकर हटा दिया.

कांग्रेस-बीजेपी सदस्यों के बीच हुई हाथापाई

इसके बाद डिप्टी चेयरमैन को कुर्सी से हटाए जाने से नाराज बीजेपी और जेडीएस सदस्यों की कांग्रेस विधायकों के साथ जबरदस्त बहस और धक्कामुक्की हो गई. इसके बाद जब चेयरमैन प्रताप चंद्र शेट्टी को उपमुख्यमंत्री अश्वथ नारायण सहित कई बीजेपी सदस्यों ने कुर्सी तक जाने से रोका. मार्शल्स ने बल प्रयोग कर सदस्यों को हटाया और चेयरमैन को उनकी कुर्सी तक पहुंचाया. इसके बाद चेयरमैन ने विधान परिषद की कार्यवाही को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया. इसके बाद बीजेपी के सदस्य भड़क गए और दोनों पक्षों के बीच जमकर कहा सुनी और हाथापाई हो गई.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here