आरोपियों के कब्जे से देशी पिस्टल, देशी कट्टे, रिवाल्वर सहित अवैघ 16 हथियारों के साथ 7 जिन्दा कारतूस भी बरामद

इन्दौर-दिनांक 03 दिसबंर 2017-शहर मे हो रही अवैध हथियारो की खरीद फरोखत की गतिविधियों पर अंकुश लगाने व इनमें संलिप्त अपराधियों के विरूद्ध कड़ी व प्रभावी कार्यवाही करने के लिये पुलिस उप महानिरीक्षक इन्दौर शहर श्री हरिनारायणचारी मिश्र द्वारा इंदौर पुलिस को निर्देद्गिाशत किया गया है। उक्त निर्देशों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक (मुखयालय) मो.युसुफ कुरेशी के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (क्राईम ब्रांच) श्री अमरेन्द्र सिंह के द्वारा क्राईम ब्रांच की टीमों को इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।
इसी कड़ी में क्राईम ब्रांच इन्दौर के द्वारा अपने मुखविर तंत्र के माध्यम से छानबीन की गई जिसमे यह बात सामने आई कि जिन सिकलीगरो पर पुलिस द्वारा पूर्व मे कार्यवाही की गई है उनमे से कुछ सिकलीगरों ने कोर्ट से जमानत प्राप्त होने के बाद फिर से अवैध हथियार बनाने एवंइन्दौर एवं आसपास के क्षेत्रो मे बेचना प्रारम्भ कर दिया है। इन सिकलीगरों के ऊपर निगाह रखने के लिये क्राईम ब्रांच इन्दौर के द्वारा अपने मुखबिरों को लगाया गया, जिसके परिणामस्वरूप मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि लालबाग जिला धार का रहने वाला एक सिकलीगर तेरसिह पिता जसवंत सिंह, अवैध हथियारो की डिलीवरी देने इन्दौर आ रहा है। उक्त सूचना पर तत्काल क्राइम व्राच की टीम द्वारा थाना जूनी इन्दौर पुलिस के साथ संयुक्त कार्यवाही करते हुए घेराबंदी कर तेरसिंह सिकलीगर को टॉवर चौराहे के पास से पकडा गया, जिसकी तलाद्गा करने पर उसके थेले मे एक 12 बोर का कट्टा ,एक रिवाल्वर, एक पिस्टल एवं 2 जिन्दा कारतूस बरामद हुए। तेरसिह सिकलीगर, अवैध हथियार बनाने एवं बेचने के अपराध मे पूर्व मे भी कई बार पुलिस द्वारा पकडा जा चुका है एवं वर्ष 2008 मे पीथमपुर जिला धार मे हुई आजाद पटेल निवासी पानखेड़ी की हत्या के मामले मे उसे धार जिला न्यायलय से 3 वर्ष की सजा भी हो चुकी है। तेरसिह वर्तमान मे माननीय उच्च न्यायालय से जमानत पर है एवं जमानत पर छूटने के बाद फिर से अवैध हथियार बनाने का कार्य करने लगा है। पूछताछ मे तेजसिह सिकलीगर ने इन्दौर शहर मे कुछ लोगोको अवैध हथियार बेचना स्वीकार किया एवं उनके बारें में जानकारी दी गयी।
तेरसिह सिकलीगर से प्राप्त जानकारी के आधार पर सोनू उर्फ सुनील निवासी लेवड जिला धार एवं लालसिह पिता बजेसिह निवासी हातोद को माणिकवाग व्रिज के पास से थाना जूनी इन्दौर पुलिस एवं क्राईम व्रांच के द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए पकडा गया। आरोपी लाल सिह पिता बजेसिह के पास से एक देशी रिवाल्वर एक जिन्दा कारतूस सहित प्राप्त हुई एवं आरोपी सोनू उर्फ सुनील निवासी लेबड जिला धार के पास से एक 315 बोर का कट्टा एक जिन्दा कारतूस सहित एवं एक पिस्टल बरामद की गयी। आरोपी लाल सिह निवासी हातोद को वर्ष 2008 मे हुई पीथमपुर जिला धार मे हुई आजाद पटेल निवासी पानखेड़ी की हत्या के मामले मे धार जिला न्यायालय से आजीवन कारावास की सजा हो चुकी है एवं आरोपी लाल सिह वर्तमान मे माननीय उच्च न्यायालय से जमानत पर है। आरोपी सोनू उर्फ सुनील निवासी लेबड धार का अवैध हथियार रखने ,मारपीट आदि का अपराधिक रिकार्ड है ।

इसी प्रकार तेरसिह सिकलीगर से प्राप्त जानकारी के आधार पर क्राईम ब्रांच इन्दौर एवं थाना राऊ इन्दौर की संयुक्त कार्यवाही मे 1. सादिक पिता जुवेर मंसूरी निवासी श्रमिककालोनी राऊ, 2. मोहसिन पिता जव्वार मंसूरी निवासी नेहरूनगर राऊ, 3. बबलू ठाकुर उर्फ यजुर्वेन्द्र पिता स्व गोपाल सिह निवासी अयोध्यापुरी राऊ, 4. आकाश पिता सुरेश यादव निवासी सांईविहार कालोनी राऊ को पकडा गया । आरोपी सादिक पठान के पास से पुलिस को एक पिस्टल एक जिन्दा कारतूस सहित एवं एक बारह बोर का कट्टा बरामद हुआ। आरोपी सादिक पठान के राऊ थाने पर हत्या के प्रयास, अवैध शराब रखने मारपीट एवं अवैध हथियार रखने का अपराधिक रिकार्ड है, सादिक आपराधिक प्रवृति का होकर लोगो को डराने धमकाने के लिये अवैध हथियार रखता था। आरोपी मोहसिन मंसूरी के पास से एक बारह बोर का कट्टा जिन्दा कारतूस सहित एवं एक पिस्टल बरामद की गयी हैं। आरोपी मोहसिन मंसूरी वेल्डर का काम करता है तथा ब्याज पर पैसे भी देता है मोहसिन मंसूरी का राऊ थाने पर जुआ खेलने अवैध हथियार रखने का अपराधिक रिकार्ड है। आरोपी आकाश यादव के पास से एक बारह बोर का कट्टा जिन्दा कारतूस सहित प्राप्त हुआ है, आरोपी आकाश यादव प्रापर्टी डीलिंग एवं प्रापर्टी डेवलेपमेन्ट का काम करता है। प्रापर्टी को लेकर आकाश यादव का कई लोगो से विवाद रहता है इसलिये वह अपने साथ अवैधहथियार रखता है।

इसी प्रकार तेरसिह सिकलीगर से प्राप्त जानकारी के आधार पर खजराना थाना पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए आरोपी मो. इकवाल पिता अब्दुल वदू निवासी खजराना को गिरफ्तार किया गया आरोपी के पास से एक पिस्टल जिन्दा कारतूस सहित एवं एक 315 वोर का देशी कट्टा जिन्दा कारतूस सहित बरामद किया गया । आरोपी मो.इकवाल ड्रायवरी का काम करता है एवं उसका थाना खजराना मे अवैध हथियार रखने, थाना लसूडिया मे लूट करने एवं कोतवाली धार मे हत्या का प्रयास का पूर्व का भी आपराधिक रिकार्ड है। ओरोपी लोगो को डराने धमकाने के लिये अपने पास अवैध हथियार रखता था।

इसी प्रकार तेरसिंह सिकलीगर के बताये अनुसार एक अन्य आरोपी सूरज उर्फ जला पिता हरिविलास भदोरिया निवासी कुलकर्णी का भट्टा परदेशीपुरा को थाना परदेशीपुरा एवं क्राइम व्राच की संयुक्त कार्यवाही मे गिरफ्तार किया गया। आरोपी के कब्जे से एक पिस्टल जिन्दा कारतूस सहित प्राप्त हुई है। आरोपी सूरज उर्फ जला पर थाना परदेशीपुरा थाने मे अवैध हथियार रखने अवैध शराव वेचने आदि का पूर्व का आपराधिक रिकार्ड है । आरोपी सूरज जला आपराधिकप्रवृति का होकर आसपास के लोगो को डराने धमकाने के लिये अवैध हथियार रखता है ।
इसी प्रकार तेरसिंह सिकलीगर द्वारा दी गयी जानकारी पर थाना द्वारिकापुरी के साथ क्राइम ब्रांच द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए आरोपी रजत पिता सीताराम यादव निवासी श्रृद्धापुरी कालोनी द्वारकापुरी को गिरप्तार कर उसके कब्जे से एक पिस्टल मय कारतूस बरामद किया गया । आरोपी रजत यादव लूट करने, चाकूबाजी ,मारपीट करने के अपराध मे पूर्व मे भी कई थानो पर पकडा जा चुका है एवं कुछ दिनो पहले सिरपुर तालाब के पास हुई व्यापारी की हत्या मे शामिल आरोपी शुभम यादव का भाई है। आरोपी रजत यादव भी अपने भाई की तरह ही आपराधिक प्रवृति का होकर आसपास के लोगो मे अपना प्रभाव प्रदर्शित करने के लिये पिस्टल अपने साथ रखता था ।

विगत कुछ वर्षो मे हुई आपराधिक वारदातो मे जानकारी सामने आई थी कि इन वारदातो मे ज्यादातर अवैध हथियारो की सप्लाई शहर की सीमा से जुडे अन्य जिलो के सिकलीगरो द्वारा प्रमुख रुप से की जाती रही है। इसी के मद्देनजर क्राइम ब्रांच इन्दौर द्वारा अपने आसूचना संकलन के माध्यम से उपरोक्त बदमाशो को पकडकर उनके कब्जे से 16 अवैध हथियार तथा 7जिन्दा कारतूस बरामद किये गये। इस कार्यवाही मे पुलिस थाना जूनी इन्दौर, थाना द्वारकापुरी, थाना परदेशीपुरा, थाना राऊ, थाना खजराना पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच ने त्वरित कार्यवाही करते हुए उपरोक्त आरोपियों को धरदबोचा। आरोपियों के विरुद्ध संबंधित थाना क्षेत्रों में प्रकरण कायम किये जाकर वैधानिक कार्यवाही की गई है। इन्दौर पुलिस द्वारा निरंतर की जा रही उक्त कार्यवाही शहर मे कुखयात अपराधियों द्वारा अस्त्र-द्गास्त्रों का दुरुपयोग कर होने वाली घटनाओं मे कमी आने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here