BSF unearths tunnel being dug from Pakistan side in jammu!

 

जम्मू। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के सजग प्रहरियों ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जम्मू के अरनिया सेक्टर में सुरंग का पता लगाकर पाकिस्तान की नापाक करतूत को नाकाम बना दिया।

पाकिस्तानी रेंजरों की सहायता से बनी सुरंग के रास्ते आतंकी घुसपैठ कर त्योहारों के मौसम में जम्मू में बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। सुरंग का एक मुंह भारतीय क्षेत्र में (जो बंद है) और दूसरा पाकिस्तान की ओर जीरो लाइन और तारबंदी के बीच (जो खुला) है।

इस सुरंग की लंबाई करीब 14 फीट, ऊंचाई लगभग तीन फीट और चौड़ाई करीब ढ़ाई फीट है। भारत की मुकेश पोस्ट के पास बनी इस सुरंग के पास हथियार, गोलाबारूद, वर्दियां व खाने-पीने केसामान बरामद हुए हैं। मौजूदा वर्ष में यह दूसरी सुरंग मिली है।

इससे पहले रामगढ़ सेक्टर में 13 फरवरी को भी एक सुरंग का पता चला था। आरएसपुरा सेक्टर की ऑक्ट्राय पोस्ट में पाकिस्तानी रेंजरों के साथ सेक्टर कमांडर स्तर की बातचीत के एक दिन बाद सुरंग का पता लगा है। पाकिस्तान की तरफ से 13 से 17 सितंबर के बीच भारी गोलीबारी होती रही। इसी की आड़ में पाकिस्तान ने सीमा पर सुरंग बनाना शुरू किया।

शनिवार को बीएसएफ के जवानों ने अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ दमाला नाला के किनारे 10 से 12 सशस्त्र पाकिस्तानी नागरिकों की संदिग्ध हलचल देखी। बल के जवान जोखिम उठाते हुए घने जंगलों में पहुंच गए। यह वह क्षेत्र था जहां पर पाकिस्तान की गोलीबारी होती रही थी और वहां पर बिना फटे हुए गोले पड़े हुए थे।

बीएसएफ के जवानों को देखकर पाकिस्तानी नागरिक मौके से भाग गए और वहां पर काफी समान छोड़ गए। बीएसएफ की 62वीं बटालियन के जवानों ने तलाशी अभियान चलाया और वहां पर एक अधूरी सुरंग का पता चला।

बीएसएफ जम्मू फ्रंटियर मुख्यालय में आइजी राम अवतार ने पत्रकारों से कहा कि पाकिस्तानी रेंजरों की जानकारी के बिना सुरंग नहीं निकाली जा सकती है। सर्जिकल स्ट्राइक का एक वर्ष पूरा होने पर इस नापाक हरकत के सामने आने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह इसपर कुछ नहीं कह सकते।

पत्रकार वार्ता में सुरंग का वीडियो भी दिखाया गया। आइजी ने कहा कि बीएसएफ हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here