• भोपाल में घना कोहरा, दृश्यता 50 मीटर तक रह गई
  • अरब सागर से नमी आना बंद, बारिश की संभावना खत्म
  • इस सीजन में भोपाल में जनवरी का सबसे ज्यादा कोहारा और बारिश हुई। कोहरे के कारण पहली बार राजधानी में रविवार सुबह साढ़े 8 बजे तक 50 मीटर दृश्यता रह गई थी। बीते चौबीस घंटे में प्रदेश की सबसे ज्यादा बारिश भी भोपाल में 4.4 मिमी रिकॉर्ड की गई। भोपाल समेत प्रदेश के 9 संभागों में अच्छी बारिश हुई।

    भोपाल में प्रदेश की सबसे ज्यादा 4.4 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। शनिवार रात को कोहरे के कारण भोपाल के राजाभोज सेतु का एक दृश्य।
    भोपाल में प्रदेश की सबसे ज्यादा 4.4 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। शनिवार रात को कोहरे के कारण भोपाल के राजाभोज सेतु का एक दृश्य।

    भोपाल के अलावा राजगढ़ और शाजापुर में दृश्यता 50 मीटर से 200 मीटर तक रही। मौसम वैज्ञानिक जीडी मिश्रा ने बताया कि अब दो दिन तक इसी तरह सुबह कोहरा रहेगा। हालांकि अब बारिश की संभावना खत्म हो गई है। रविवार दोपहर बाद बादल छटने लगेंगे, लेकिन कोहरे का असर ज्यादा रहेगा। इसके बाद 14 जनवरी से फिर ठंड रहेगी।

    भोपाल में सुभाष नगर से गोविंदपुरा की तरफ जाने वाले रास्ते पर सुबह 8.15 बजे कोहरे का नजारा।
    भोपाल में सुभाष नगर से गोविंदपुरा की तरफ जाने वाले रास्ते पर सुबह 8.15 बजे कोहरे का नजारा।

    दिन का पारा 7 डिग्री तक गिरा

    बारिश के कारण प्रदेश भर में दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई। यह कई संभागों में तो सामान्य से 7 डिग्री तक नीचे आ गया। भोपाल, दतिया और टीकमगढ़ में दिन का पारा 20 के आसपास रहा, जबकि देश प्रदेश में यह 21 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा। इधर रात का पारा सामान्य से करीब 9 डिग्री तक ऊपर चढ़ गया। रात का पारा सबसे ज्यादा सीधी में 18 डिग्री सेल्सियस रहा। प्रदेश में सभी संभागों में रात का न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा ही रिकॉर्ड किया गया।

    यहां हुई बारिश

    शहर बारिश मिमी में
    भोपाल 4.4
    रायसेन 3.0
    इंदौर 2.9
    शाजापुर 1.0
    दमोह 1.0
    उज्जैन 0.6
    सागर 0.6
    सतना 0.4
    धार 0.3

    यहां रहा कोहरे का जोर

    शहर दृश्यता मीटर में
    भोपाल 50
    शाजापुर 50-200
    राजगढ़ 50-200
    गुना 200-500
    उज्जैन 200-500
    सागर 200-500
    ग्वालियर 500-1000

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here