एक महिला ने अपनी ही नाबालिग बेटी को उत्तरप्रदेश में 20 हजार में बेचा और फिर उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। 22 जनवरी 2019 को यह रिपोर्ट लिखाई गई थी। तिल्दा पुलिस ने पता-साजी की और 23 माह बाद मामले का खुलासा हुआ। नाबालिग को विवाह का लालच देकर मां ने खुद आरोपी को बेचा था। 23 माह के बीच उसने एक शिशु को भी जन्म दिया है। बालिका ग्राम बंदरी थाना कमासिन जिला बांदा उत्तर प्रदेश से आरोपी के कब्जे से 5 दिसंबर को बरामद कर ली गई है।

आरोपी का नाम विजय बहादुर खेंगर है। विजय पर पैसा देकर अवयस्क लड़की से विवाह करने एवं उसका दैहिक शोषण करने का आरोप सिद्ध होने पर धारा 370, 370ए, 376 एवं 46.17 पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here