Chhattisgarh police arrests Former journalist Vinod Verma from Delhi NCR

मृगेंद्र पांडेय, रायपुर/ गाजियाबाद।छत्तीसगढ़ पुलिस ने वरिष्ठ पत्रकार और एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के सदस्य विनोद वर्मा को हिरासत में लिया है। गुरुवार-शुक्रवार की रात को तकरीबन तीन बजे छत्तीसगढ़ पुलिस ने यूपी पुलिस के सहयोग से वरिष्ठ विनोद वर्मा को उनके इंदिरापुरम (गाजियाबाद, यूपी) स्थित घर से हिरासत में लिया। बताया जा रहा है कि उन्हें इंदिरापुरम थाने में रखा गया। यह पूरा मामला छत्तीसगढ़ के एक मंत्री से जुड़ी सीडी का बताया जा रहा है।

पत्रकार विनोद वर्मा ने अपनी गिरफ्तारी के बाद पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मेरे पास छत्तीसगढ़ के मंत्री राजेश मूणत का वीडियो है। इसलिए छत्तीसगढ़ सरकार मुझसे खुश नहीं है। वर्मा ने कहा कि मेरे पास एक पेन ड्राइव है, सीडी के साथ मेरा कोई लेना देना नहीं है। मुझे फंसाया जा रहा है।

पंडरी थाने में हुई थी शिकायत

छत्तीसगढ़ पुलिस के मुताबिक शिकायतकर्ता प्रकाज बजाज ने 26 अक्टूबर को रायपुर के पंडरी थाने में लिखित आवेदन देकर फोन पर धमकी दिए जाने की शिकायत की थी। बजाज ने शिकायत में बताया था कि फोन पर धमकी दी गई है कि तुम्हारे आका का अश्लील वीडियो हमारे पास है। इसके एवज में उनसे पैसे की मांग की गई और पैसा नहीं देने पर सीडी बांटकर इज्जत मिट्टी में मिला देने की धमकी दी गई।

बजाज की शिकायत पर पंडरी पुलिस ने अपराध क्रमांक 340/17 384,507 भादंवि के तहत मामला दर्ज किया और प्रकरण की जांच क्राइम ब्रांच को सौपा। क्राइम ब्रांच को विवेचना के दौरान दिल्ली के वीडियो संचालक के बारे में जानकारी प्राप्त हुई। वीडियो संचालक से पूछताछ में विनोद वर्मा नामक व्यक्ति द्वारा 1000 सीडी बनवाने की जानकारी मिली।

पढ़ें – विनोद वर्मा ने दिया था 1000 सीडी बनाने का ऑर्डर : आईजी रायपुर

क्राइम ब्रांच का दावा है कि वीडियो संचालक की सूचना पर विनोद वर्मा के पास से 500 सीडी और पेन ड्राइव जप्त किया गया और उन्हें हिरासत में लिया गया। उनके पास से एक लेपटॉप और डायरी भी जप्त की गई है। पुलिस के अनुसार दिल्ली के अदालत में पेश कर ट्रांजिट रिमांड पर लिया जाएगा।

बताया जा रहा है कि वे शुक्रवार को सीडी समेत रायपुर आने वाले थे। संभव था कि कुछ सीडी जारी की जा सकती थी। इससे पहले ही उन्हें हिरासत में ले लिया गया। उन्होंने सीडी किसके लिए बनवाई या किसके पक्ष में यह किया जा रहा था इसकी जांच की जा रही है। वकील ओमवीर सिंह और अमित यादव थाने पहुंच चुके हैं।

भूपेश बघेल ने सीडी जारी कर की गिरफ्तारी की निंदा

छत्तीसगढ़ पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने शुक्रवार सुबह अपने बंगले में प्रेस कांफ्रेंस करते हुए वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी पर छत्तीसगढ़ सरकार की निंदा की। उनका कहना है कि जिस सीडी को लेकर ब्लैकमेल करने का आरोप विनोद वर्मा पर लगा है, वो प्रदेश के एक कद्दावर मंत्री की है। बघेल ने वो सीडी भी सार्वजनिक की, जिसमें मंत्री एक महिला के साथ आपत्तिजनक हाल में हैं। उन्होंने इस सीडी की जांच की मांग की है।

बघेल ने दावा किया कि चूंकि ये सेक्स सीडी एक मंत्री की है, इस कारण से मंत्री को बचाने के लिए विनोद वर्मा को आनन-फानन में गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने इसे लोकतंत्र पर हमला बताया है और कहा कि कांग्रेस पत्रकारों की लड़ाई में पूरी तरह साथ है। जानकारी के मुताबिक विनोद वर्मा कांग्रेस नेता भूपेश बघेल का सोशल मीडिया संभाल कैंपेन संभाल रहे थे। भूपेश बघेल भी दिल्ली रवाना होने वाले हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here