नई दिल्ली। नोटबंदी को लेकर सरकार भले ही अपनी पीठ थपथपा रही हो लेकिन उनकी ही पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा इससे सहमत नजर नहीं आ रहे। उन्होंने इसे देश की गिरती जीडीपी के लिए जिम्मेदार करार दिया है।

उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि नोटबंदी ने आग में घी का काम किया है। पीएम मोदी ने तो गरीबी देखी हे लेकिन वित्त मंत्री जेटली लोगों को गरीबी दिखा रहे हैं।

एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि नोटबंदी ने गिरती जीडीपी को और कमजोर किया है। आज ना तो नौकरी मिल रही है ना विकास तेज हो रहा जिसका सीधा असर निवेश और जीडीपी पर पड़ा है।

सिन्हा ने कहा कि जीडीपी अभी 5.7 है, सभी को याद रखना चाहिए कि सरकार ने 2015 में जीडीपी तय करने के तरीके को बदला था। अगर पुराने नियमों के हिसाब से देखें तो आज के समय में जीडीपी 3.7 होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here