कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में गुरुवार सुबह हुए स्कूल बस हादसे में मरने वाले बच्चों की संख्या 18 हो गई है। हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कुशीनगर पहुंच गए हैं। बता दें कि सुबह एक स्कूल बस के रेलवे क्रॉसिंग पर ट्रेन से टकरा जाने से 13 बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई थी वहीं 5 अन्य ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं अन्य घायल हैं जिनका इलाज जारी है।

बताया जा रहा है कि विशुनपुरा थाना क्षेत्र के दुदही बहपुरवा रेलवे क्रॉसिंग पर सुबह 6-50 बजे सिवान से गोरखपुर जाने वाली 55075 अप सवारी गाड़ी की चपेट में स्कूली बच्चों से भरी बस आ गई। हादसा इतना भयावह था कि स्कूल बस के परखच्चे उड़ गए।

हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख जताते हुए इसकी जांच के आदेश दिए हैं साथ ही वे घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं। वहीं दूसरी तरफ रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी दुर्घटना पर दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा की है।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस हादसे पर दुख जताते हुए कहा है कि यूपी सरकार और रेलवे जरूरी एक्शन लेंगे।

जानकारी के अनुसार स्कूल बस डिवाइन पब्लिक स्कूल की थी और इसमें 20 बच्चे सवार थे। हादसा विशुनपुरा के दुदही रेलवे क्रॉसिंग पर हुआ है। हादसे के बाद सभी घायलों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है वहीं रेलवे और पुलिस प्रशासन के सभी आला अधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं।

हादसे की सूचना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पर दुख जताते हुए 2-2 लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा करते हुए सभी घायलों को उचित इलाज मुहैया करवाने के लिए कहा है साथ ही इस हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं।

दूसरी तरफ दुर्घटना को लेकर रेलवे की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि यह हादसा स्कूल बस ड्राइवर की लापरवाही के चलते हुआ जो खुद भी इस दुर्घटना में मारा गया है।

कान में ईयरफोन लगाकर गाड़ी चला रहा था ड्राइवर

मिल रही जानकारी के अनुसार हादसा ड्राइवर की गलती की वजह से हुआ है। बताया जा रहा है कि ड्राइवर ने ईयरफोन लगा रखे थे और इसके कारण उसे ट्रेन की आवाज सुनाई नहीं दी। वहीं बस में बैठे बच्चे भी उसे आवाज देकर आगाह करने की कोशिश करते रहे लेकिन वो सुन नहीं सका और इतना दर्दनाक हादसा हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here