राधे मां पूर्वी दिल्ली के एक थाने में एसएचओ की कुर्सी पर बैठी नजर आ रही है.

खुद को देवी का स्वरूप मानने वाली राधे मां फिर विवादों में है. इसकी वजह वो तस्वीर है जिसमें वह थाने के अंदर एसएचओ की कुर्सी पर बैठ पुलिसकर्मियों को दर्शन दे रही हैं, जबकि एसएचओ खुद उनके पास खड़ा है. मामले को लेकर विवाद पैदा होने पर 5 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है.

 

 

तस्वीर नवरात्रि के अष्टमी की रात करीब एक बजे की है. पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार थाने में राधे मां आती है और एसएचओ संजय शर्मा की कुर्सी पर बैठकर थाना के पुलिस वालों को दर्शन देती है. ऑफिस के अंदर एसएचओ राधे मां के पास चुनरी ओढ़कर खड़े हैं.

 

 अन्य पुलिस वाले उनके दर्शन करते नजर आ रहे हैं. कुछ पुलिस वाले भक्त की मुद्रा में नजर आ रहे हैं. हद तो तब हो गई जब थाने के अंदर जुटी भक्तों की भीड़ के साथ पुलिस वाले भी राधे मां के जयकारे लगाते नजर आए.

 

 

एसएचओ की कुर्सी पर राधे मां का बैठना और थाने के अंदर पुलिसकर्मियों को दर्शन देना अपने आप में विवादित है. इस बारे में एसएचओ की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

 

तस्वीर को देखकर ये अंदाजा लगा पाना मुश्किल है कि ये वाकई पुलिस थाना है या राधे मां का दरबार. खाकी वर्दी की इज्जत से बेपरवाह एसएचओ संजय शर्मा भक्त की मुद्रा में हाथ जोड़े नजर आ रहे हैं.

 

राधे मां के आने की खबर लगते ही थाने के भीतर और बाहर भक्तों की कतार लग घई. आपको बता दें कि विवादित धर्म गुरु राधे मां दहेज उत्पीड़न, यौन उत्पीड़न और धमकाने समेत कई तरह के आरोपों से घिरी हुई हैं.

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद संतों की एक संस्था ने बकायदा बैठक कर देशभर के फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की थी। राधे मां का नाम भी फर्जी संतों की इस सूची में शामिल था.

राधे मां को कोर्ट ने दिया दूसरा बड़ा झटका, दहेज प्रताड़ना और घरेलू हिंसा का आरोप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here