सागर। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल बज चुका है। जनता भी जनप्रतिनिधियों के कामों का रिपोर्ट कार्ड देखना चाहती है। दोनों के बीच सार्थक संवाद की पहल नईदुनिया ने ‘वार्तालाप’ कार्यक्रम के माध्यम से की है। इस क्रम में मध्य प्रदेश के गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह सागर के होटल दीपाली में आयोजित ‘वार्तालाप- सार्थक संवाद का सेतु’ में आमजन से मुखातिब हुए।

मंत्री सिंह ने कहा कि पहले प्रदेश में नक्सलवाद और डकैती की समस्या थी, लेकिन आज ऐसा कुछ नहीं है। जब हमारी सरकार बनी थी तो हमारे सामने बहुत सी बात सामने आई। प्रदेश में आज 22 हजार मेगावॉट बिजली उत्पादन किया जा रहा है। पॉवर जनरेशन में मध्यप्रदेश आत्मनिर्भर हो गया है। दूसरी हमारे पास सिंचाई की समस्या थी, लेकिन अब ये खत्म हो गई है। सड़कों की स्थिति भी आपके सामने थी, आज मध्यप्रदेश की सड़कें बहुत बेहतर हैं। मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव में महिलाओं को 50 प्रतिशत का हिस्सा दिया है। लाड़ली लक्ष्मी, कन्यादान योजना सहित कई योजनाएं मध्यप्रदेश की सरकार ने महिलाओं के लिए चलाई। मध्यप्रदेश में दुष्कर्म के मामलों में सबसे तेजी से फैसले हुए हैं।

गांव सड़कों से जुडें यह काम हमारी सरकार ने किया। छोटे गांवों को मुख्यमंत्री सड़क योजना के तहत जोड़े गए। नगरीय क्षेत्रों में भाजपा की सरकार ने बहुत तेजी से काम किया। मध्यप्रदेश के 22 शहर स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट में शामिल हुए थे। स्वच्छता अभियान में देश के सभी शहरों में इंदौर और भोपाल सबसे ऊपर रहे। शहरों के विकास, अधोसंरचाना, वॉटर सप्लाई को लेकर बहुत तेजी से काम हुआ। सागर में 750 करोड़ रुपए के टेंडर लगे हुए हैं।

प्रधानमंत्री द्वारा चलाए गए स्वच्छता अभियान में पूरे देश में हमारा प्रदेश सबसे ऊपर पहुंचा है। पर्यटन के क्षेत्र में भी मध्यप्रदेश के पुरस्कार पिछले दो साल से मिल रहे हैं। कृषि के क्षेत्र में भी पिछले कई वर्षों से नंबर वन पर है। मेडिकल सेक्टर में हमारी सरकार आने के बाद बड़ा काम हुआ है। 46 वर्ष तक मध्यप्रदेश में कोई नया मेडिकल कॉलेज नहीं खोला गया था। हमारी सरकार आने के बाद नए मेडिकल कॉलेज खुले। आज प्रदेश में डॉक्टरों और नर्सों की कमी है, क्योंकि पहले कोई मेडिकल कॉलेज नहीं खोले गए। प्रदेश में 109 आईटीआई हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतगर्त गरीबों के मकान बनाने का काम चल रहा है। गरीब के जीवन को सुरक्षा प्रदान कराने वाली कई योजनाएं हैं।

मेधावी छात्र योजना के तहत बच्चों की फीस सरकार भरेगी। इसमें सरकार द्वारा कोई रिजर्वेशन नहीं है। इस योजना का लाभ किसी भी वर्ग के बच्चे ले सकते हैं। मध्यप्रदेश में जब से शिवराज सिंह चौहान सीएम बने, तब से प्रदेश में राजनीतिक स्थिरता रही। इसी स्थिरता की वजह से मध्यप्रदेश ने बहुत तेजी से प्रगति की। बच्चियों के साथ दुष्कर्म के दोषियों को फांसी दिलाने की बात सीएम ने कही और ऐसे मामलों में कोर्ट ने तेजी से फैसले लिए।

सागर शहर सुरक्षा के मामले में देश में नंबर वन पर है। इसलिए मैं सागरवासियों को बधाई देता हूं और धन्यवाद करता हूं। आज राज्य के अंदर ऐसा दूसरा दल नहीं है जो स्थिर नेतृत्व देता हो। शिवराज जी लगातार बारह महीने काम करते हैं। शिवराज जी जैसा नेतृत्व और ऐसा नेता किसी दूसरे दल के पास नहीं है। मध्यप्रदेश में दो महीने बाद चुनाव है। कांग्रेस के दीपक बाबरीया ने एक कार्यक्रम में अजय सिंह का नाम नहीं लिया तो कांग्रेसियों ने उनकी पिटाई कर दी। इसके बाद मैंने उन्हें सुरक्षा देने की बात भी कही। अपने मेहनत से मध्यप्रदेश को हमने विकासशील राज्य बनाया है, आगे हम इसे और समृद्ध बनाएंगे।

महिला सुरक्षा को लेकर मध्यप्रदेश की स्थिति को लेकर बार-बार सवाल उठते हैं?

मंत्री का जवाब : कांग्रेस पार्टी बेकार में आरोप लगाती है। 1993 से 2003 में मध्यप्रदेश दिग्विजय सिंह की सरकार में दुष्कर्म के मामलों में नंबर वन था। यह घटनाएं देश में बढ़ रही है, लेकिन सरकार उस पर कितनी सख्ती से काम करती हैं, बात यह है। हमने सुरक्षा की दृष्टि से कई जगह कैमरे लगाए, डॉयल 100 की सेवा शुरू की। हर सोमवार को मुख्यमंत्री महिला अपराध से जुड़े मामलों पर हुई कार्रवाई को देखते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here