उज्जैन(नईदुनिया प्रतिनिधि)। अक्टूबर में जहरीली शराब से हुई 14 लोगों की मौत के मामले में आरोपित आरक्षक सुदेश खोड़े गुरुवार तड़के केंद्रीय जेल भैरवगढ़ में मौत हो गई। खोड़े को हार्ट अटैक आया था। शव की पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए हैं। अक्टूबर में जहरीली शराब कांड में 14 लोगों की मौत हो गई थी। मामले में महाकाल थाने में पदस्थ आरक्षक सुदेश खोड़े, खाराकुआं थाने में पदस्थ शेख अनवर व नवाज शरीफ को आरोपित बनाया गया था। तीनों के खिलाफ विभागीय जांच की गई थी। जांच में तीनों को दोषी पाया गया था। नवाज शरीफ व शेख अनवर को पूर्व में ही गिरफ्तार कर जेल भेजने के साथ ही बर्खास्त कर दिया गया था।

आरक्षक सुदेश खोड़े लंबे समय तक फरार था। उस पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। 24 नवंबर को ही वह थाने में पेश हो गया था। इसके बाद 26 नवंबर को उसे जेल भेज दिया गया था। इस दौरान एसपी सत्येंद्र शुक्ला ने उसे बर्खास्त कर दिया था। गुरुवार को खोड़े की जेल में मौत हो गई। इस मामले में कुल 16 आरोपित थे। खोड़े की मौत के बाद 15 आरोपित अब भी जेल में हैं। चार्जशीट दाखिल होने के बाद भी कोर्ट ने अभी किसी भी आरोपित को जमानत नहीं दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here