ERO NET will catch voters name in more than one place!

 

भोपाल। मतदाता सूची को त्रुटि रहित बनाने के लिए चुनाव आयोग ईआरओ नेट एप लांच करेगा। इसके जरिए देशभर के निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एक प्लेटफार्म पर आ जाएंगे। मतदाता का नाम जोड़ने के लिए आवेदन आने पर उसका ब्योरा ईआरओ नेट एप पर डालते ही कहीं भी उसका नाम पहले से दर्ज होगा तो सामने आ जाएगा।

इससे एक मतदाता का नाम कई जगह होने की समस्या से निजात मिलेगी। भारत के निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत चार अक्टूबर को भोपाल में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में इसका शुभारंभ करेंगे। इससे पहले वे तीन अक्टूबर को इंदौर में समीक्षा बैठक लेंगे।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने बताया कि चुनाव आयोग मतदाता सूची को त्रुटि रहित बनाने पर विशेष जोर दे रहा है। इसके लिए देशभर के निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को ईआरओ नेट से जोड़ा जा रहा है। ये एक वेब आधारित एप है। इसमें किसी भी मतदाता का ब्योरा डालने पर यह पता लग जाएगा कि उसका नाम कहीं और मतदाता सूची में दर्ज तो नहीं है।

ईआरओ नेट की तैयारियों की समीक्षा के लिए निर्वाचन आयुक्त तीन अक्टूबर को इंदौर आएंगे। बैठक के बाद वे शाम को भोपाल पहुंचेंगे और अगले दिन चार अक्टूबर को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में ईआरओ नेट के शुभारंभ कार्यक्रम में भाग लेंगे। कार्यक्रम में चुनाव आयोग के उप निर्वाचन आयुक्त संदीप सक्सेना और संचालक सूचना प्रौद्योगिकी वीएन शुक्ला के साथ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह भी मौजूद रहेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here