मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को माफियाओं को सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि ‘अगर उन्होंने राज्य नहीं छोड़ा तो वे उन्हें 10 फीट के अंदर जमीन में गाड़ देंगे।’ चौहान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर आयोजित एक सुशासन दिवस कार्यक्रम में बोल रहे थे।

वहां माफिया और अवैध गतिविधियों में शामिल अन्य लोगों को चेतावनी देते हुए सीएम शिवराज ने कहा, “आज कल मैं खतरनाक मूड में हूं। गड़बड़ करने वाले को छोड़ेंगे नहीं, मामा फॉर्म में हैं। एक तरफ माफियाओं के खिलाफ मसल पावर का अभियान चल रहा है, रसूख का इस्तेमाल करके, कहीं अवैध कब्जा कर लिया, भवन टांग दिया, कहीं ड्रग माफिया। तो सुन लो रे! मध्य प्रदेश छोड़ दो नहीं तो जमीन मे गाड़ दूंगा, पता भी नहीं चलेगा।”

होशंगाबाद जिले के बाबई में बोलते हुए उन्होंने आगे कहा- “सुशासन का मतलब है, जनता परेशान न हो… दादा, गुंडे, बदमाश, अब किसी को नहीं चलने दूंगा। यह सुशासन है।”

मध्य प्रदेश में तेज हुआ ‘नक्सल विरोधी अभियान’

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि ‘राज्य में भू माफिया और ड्रग माफियों के खिलाफ अभियान चल रहा है’। उन्होंने कहा कि ‘प्रदेश में नक्सली आंदोलन किसी भी सूरत में पनपने नहीं दिया जाएगा।’

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि ‘राज्य को शांति का टापू बनाने की कोशिश की जा रही है और ये सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई इस शांति में विघ्न ना डाल सके’। आगे उन्होंने नक्सलियों पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि ‘कोई भी नक्सली अब मध्य प्रदेश में शरण नहीं ले पाएगा और जो शरण लेगा उसे भून दिया जाएगा।’

साथ ही उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा- “प्रदेश में नक्सल विरोधी अभियान को तेज करने के लिए केंद्रीय सुरक्षाबलों की 6 कंपनियां मिलने वाली हैं। इन सभी कंपनियों को बालाघाट और मंडला जिले में तैनात किया जाएगा। बालाघाट जिले में आवागमन का नेटवर्क मजबूत करने के लिए 42 नई सड़कें भी बनाई जाएंगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here