मुंबई के उपनगर और एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी में शुक्रवार को कोरोना का एक भी नया मरीज नहीं मिला। यहां पहला केस 1 अप्रैल को आया था। तब से ऐसा पहली बार हुआ। 10 लाख से ज्यादा की आबादी वाले इस इलाके में एक ही महीने में कोरोना के केस में अचानक बढ़ोतरी दर्ज की गई थी। रोजाना करीब 100 केस आ रहे थे। एक समय कुल संक्रमितों का आंकड़ा 3000 के पार पहुंच गया था। टेस्टिंग और सख्ती बढ़ाने पर यहां जुलाई में केस काबू हुए। यहां कोरोना से निपटने के तरीकों की विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी तारीफ की थी।

ब्रिटेन से गोवा लौटने पर निगेटिव रिपोर्ट वालों को भी आइसोलेट होना पड़ेगा
ब्रिटेन में मिले कोरोना के दो नए वैरिएंट को लेकर सरकार सजग है। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है कि ब्रिटेन से गोवा आने वालों को निगेटिव रिपोर्ट आने पर भी कुछ दिन आइसोलेशन में रखा जाएगा। उधर, कर्नाटक में ब्रिटेन से लौटे 10 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। वे नए स्ट्रेन से संक्रमित हैं या नहीं इसका पता लगाने के लिए उनके सैम्पल रिसर्च सेंटर भेजे गए हैं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

उधर, असम में भी ब्रिटेन से लौटा एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया है। उसका सैम्पल जांच के लिए पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजा गया है। स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने यह जानकारी दी।

पिछले 24 घंटे में 23 हजार से ज्यादा मामले आए
देश में गुरुवार को 23 हजार 444 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई, 24 हजार 555 मरीज ठीक हो गए, जबकि 337 की मौत हो गई। अब तक कुल 1 करोड़ 1 लाख 47 हजार 468 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 97.17 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं, 1.47 लाख मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 2.80 लाख मरीजों का इलाज चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here